Articles

WordPress क्या है और इसका उपयोग कैसे करें की हिंदी में जानकारी

आप एक ब्लॉग़र है या फिर वेब लेखन से जुड़े हुए पेशेवर है तो आपने जरूर “वर्ड़प्रेस” का नाम सुना होगा.

इंटरनेट पर उपलब्ध एक चौथाई से भी अधिक वेबसाइटों का इंजन है वर्डप्रेस.

जी हां! आपने सही पढ़ा है. आप इस लेख को tutorialpandit.com वेबसाइट पर पढ़ रहे है जो खुद WordPress Platform का इस्तेमाल करती है.

चुंकि, यह Content Management System (CMS) बैकेंड में काम करता है इसलिए पाठकों को दिखाई नहीं देता है. और ना ही वे पता लगा सकते है क्योंकि सभी ब्लॉग़ एवं वेबसाइट्स एक जैसी ही दिखाई देती है. इसका एक्सेस केवल ब्लॉगर, वेबसाइट डवलपर तथा संबंधित व्यक्ति तक ही होता है.

WordPress की इतनी तारीफ सुनने के बाद तो आप भी सोच रहे होंगे कि आखिर ये वर्डप्रेस क्या है – What is WordPress in Hindi? वर्डप्रेस का उपयोग कैसे करते हैं और इसका उपयोग क्यों किया जाता है?

तो चलिए आपकी जिज्ञासा को शांत कर देते है. और आपको वर्डप्रेस के बारे में पूरी जानकारी देते है. आपकी सुविधा के लिए हमने इस लेख को छोटे-छोटे भागों में बांट दिया है.


वर्डप्रेस क्या है – What is WordPress in Hindi?

वर्डप्रेस दुनिया का सबसे लोकप्रिय और आसान कंटेट मैनेजमेंट सिस्टम है. जिसे MySQL Database System के साथ PHP Language में लिखा गया है. इसका उपयोग वर्डप्रेस ब्लॉग बनाने के अलावा फुल फंक्शन वेबसाइट, ई-कॉमर्स वेबसाइट, बिजनेस वेबसाइट, डायरेक्ट्री, डिशक्शन फॉर्म, सवाल-जवाब फॉर्म आदि के लिए खूब किया जाता है. वर्डप्रेस का पहला वर्जन 27 मई, 2003 में प्रकाशित किया गया था.

WordPress Kya Hai in Hindi

वर्डप्रेस का इस्तेमाल करके आप कॉडिंग और प्रोग्रामिंग भाषा का ज्ञाने जाने बगैर अपना वर्डप्रेस ब्लॉग़ बना सकते है और वर्डप्रेस की डायरेक्ट्रि में उपलब्ध हजारों फ्री वर्डप्रेस थीम्स तथा वर्डप्रेस प्लग-इन्स के जरिए अपनी पसंद अनुसार कस्टमाइज भी कर सकते है.

अपने सरलपन के कारण ही दुनिया की लगभग 40% वेबसाइट वर्डप्रेस का इस्तेमाल करती है. और इस क्षेत्र में यह वर्ल्ड लीडर बना हुआ है. अन्य कंटेट मैनेजमेंट सिस्टम की हिस्सेदारी बहुत कम है और उनकी लोकप्रियता भी वर्डप्रेस के मुकाबले ज्यादा नहीं है.

इस ब्लॉगिंग़ प्लैटफॉर्म को इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है. आप थोड़ा-सा समय इसके साथ बिताएंग़े तो वर्डप्रेस के द्वारा पोस्ट लिखना, प्रकाशित करना, संपादित करना, फॉरमेट करना तथा डिलिट करना सीख जाते है.

वर्डप्रेस एक सॉफ्टवेयर होता है जिसे वेब सर्वर पर इंस्टॉल किया जाता है. फिर वेब मास्टर या वेबसाइट डवलपर डेटाबेस को वर्डप्रेस से कनेक्ट कर देते है. डेटाबेस कनेक्ट करने के बाद आप ब्लॉग़ प्रकाशित करने के लिए तैयार हो जाते है. और फेसबुक की भांति अपना ब्लॉग़ चला सकते है. वर्डप्रेस इतना ही सरल है.

वर्डप्रेस की परिभाषा – WordPress Definition in Hindi

वर्डप्रेस एक शत-प्रतिशत ऑपन-सॉर्स वेब पब्लिशिंग प्लैटफॉर्म है. जिसे वर्डप्रेस फाउण्डेशन द्वारा विकसित तथा संचालित किया जाता है. यह विंडॉज, लिंक्स, सीएमएस, सीएमएफ आदि के लिए मुफ्त उपलब्ध है. तथा GPL License के साथ वितरित किया जाता है.  


WordPress.org vs WordPress.com

वर्डप्रेस के बारे में एक कन्फ्युजन हमेशा बनी रहती है. खासकर नए ब्लॉगर तो वर्डप्रेस के फ्री और पैड वर्जन के बारे में जान ही नही पाते है कि वर्डप्रेस के दो वर्जन है. इसलिए आपको  WordPress.org तथा WordPress.com में क्या अंतर है? क्या ये दोनों अलग-अलग है या फिर दोनों एक ही है? इस तरह के सवाल गूगल करते हुए मिल जाऐंग़े.

इसलिए वर्डप्रेस की पहेली को सुलझाना जरूरी है.

WordPress.org क्या है?

आपने जिस वर्डप्रेस के बारे में सुना है, पढ़ा है या जाना है ये वहीं वर्डप्रेस है. और जब कहीं वर्डप्रेस की चर्चा होती है तो उनका मतलब WordPress.org से ही होता है.

यह संस्करण ऑपन-सॉर्स प्लैटफॉर्म है जो दुनिया के सभी लोगों के लिए 100% फ्री है. बस, इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको डोमेन नेम और होस्टिंग खरीदनी पडे‌गी. फिर इसे इंस्टॉल करके अपना ब्लॉग या वेबसाइट स्टार्ट कर सकते है.

WordPress.org का संचालन वर्डप्रेस फाउण्डेशन तथा वर्डप्रेस कम्युनिटी के द्वारा किया जाता है. और यही लोग इसे समय-समय पर अपडेट करते रहते है. और इसकी कमियों को सुधारने के लिए जिम्मेदार हैं.

WordPress.org के फायदें और नुकसान

  • यह सॉफ्टवेयर मुफ्त तथा उपयोग में आसान है. और इसलिए बेहिचक इसे इस्तेमाल किया जा सकता है.
  • आपकी साइट पर पूरा नियंत्रण आपका रहता है.
  • कस्टम थीम, प्लग-इन्स इंस्टॉल कर सकते है.
  • कस्टमाइज करने की पूरी अनुमती रहती है. और आप कस्टम पीएचपी कोड, कस्टम एचटीएमएल और सीएसएस का इस्तेमाल करके थीम को अपनी पसंद के अनुसार डिजाइन करने के लिए स्वतंत्र है.
  • गूगल एनालिटिक्स कोड, गूगल एडसेंस तथा अन्य उपलब्ध तरीकों से अपने ब्लॉग़ को मोनेटाइज करने पर कोई पाबंदी नही होती.
  • मगर, इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको होस्टिंग़ तथा डोमेन नेम का खर्चा करना पड़ता है.
  • साथ ही नई अपडेट्स खुद करने पड़ते है और ब्लॉग़ सेक्युरिटी के लिए आप स्वयं जिम्मेदार रहेंग़े.

WordPress.com क्या है?

वर्डप्रेस के फाउण्डर Matt Mullenweg ने सेवा के साथ मेवा कमाने के लिए वर्डप्रेस का एक पैड वर्जन बनाया और जिसके लिए उन्होने Automattic Inc. नाम की एक अलग कंपनी भी बनाई. यह WordPress.com का सारा काम यह कंपनी ही देखती है. और WordPress के अलग-अलग उत्पाद (WordPress Managed Platform, Jetpack, Akismat आदि) के लिए जिम्मेदार है.

WordPress.com एक मैनेज वर्डप्रेस प्लैटफॉर्म है. जिसके द्वारा कोई भी व्यक्ति अपनी मुफ्त वेबसाइट बना सकता है. मगर, यह वेबसाइट wordpress.com के साथ बनेगी और आपका पूरा नियत्रंण नहीं रहेगा. जैसे; yoursite.wordpress.com.

आपको wordpress.com हटाने के लिए इसका प्रिमियम प्लान खरिदना पड़ेगा. फिर आप अपनी पसंद का नाम उपयोग कर पायेंग़े. मगर, उसे पूरी तरह कस्टमाइज करने की अनुमती नहीं होगी. आप केवल प्लान के साथ उपलब्ध थीम्स तथा प्लग-इन्स का ही उपयोग करने के लिए आजाद रहेंग़े.

इस प्लैटफॉर्म पर ब्लॉग बनाने के लिए आपको वर्डप्रेस की शर्तों का पालन और करना पड़ेगा. इसलिए किसी शर्त की अवहेलना होने पर आपका अकाउंट कब बंद कर दिया जाए कोई खबर नही.

WordPress.com के फायदें और नुकसान

  • यदि आप सिर्फ हॉबी के लिए ब्लॉग़िंग़ करना चाहते है तो शुरुआत करने के लिए सबसे बढ़िया प्लैटफॉर्म है.
  • नए ब्लॉग़र ब्लॉग़िंग़ सीखने के लिए भी इस प्लैटफॉर्म का इस्तेमाल कर सकते है.
  • आपको अपडेट्स, होस्टिंग़ के लिए अलग से कोई खर्चा नही करना पड़ता.
  • प्रिमीयम प्लान के साथ थीम्स तथा प्लग-इन्स के जरिए ब्लॉग़ को कस्टमाइज कर सकते है (यह सुविधा केवल बिजनेस प्लान के साथ है)
  • आपके फ्री वर्डप्रेस ब्लॉग पर विज्ञापन चलेंग़े जिन्हे आप रोक नहीं सकते है.
  • आप गूगल एनालिटिक्स तथा अन्य ट्रेकिंग कोड इस्तेमाल नहीं कर सकते है.
  • ब्लॉग़ को मोनेटाइज करने की अनुमति भी नहीं होती है.
  • और आपके ब्लॉग पर हमेशा Powered by WordPress दिखाई देगा.

इन दोनों की तुलना करने पर हमे पता चलता है कि WordPres.org ज्यादा स्वतंत्रता, पूरा नियत्रंण, कस्टमाइजेशन, मोनेटाइजेशन की सुविधा के साथ आता है. वहीं WordPress.com एक लाभ के लिए बनाया गया सॉफ्टवेयर है. इसलिए आपको ज्यादा फीचर्स नहीं मिलते है और इनकि शर्तों की पाबंदी अलग से झेलनी पड़ती है.

यदि आप ब्लॉगिंग करना चाहते है हम आपको WordPress.org का इस्तेमाल करने की सलाह देंगे. क्योंकि यह मुफ्त होने साथ-साथ आजादी देता है. और गुलामी किसे पसंद है?


वर्डप्रेस का इतिहास – WordPress History in Hindi?

एक फ्रेंच प्रोग्रामर Michel Valdrighi ने सन 2001 में ब्लॉगिंग प्लैटफॉर्म विकसित किया था. जिसका नाम b2/cafelog था. इसे PHP मे लिखा गया था और GPL License के अंतर्गत वितरित किया था. इसलिए इसके सॉर्स कोर्ड सभी लोगों के लिए उपलब्ध थे. मगर, दो साल के भीतर ही यह प्रोग्राम अनाथ होने की कगार पर पहुँच गया.    

इसी प्रोग्राम से प्रेरित होकर माननीय Mat Mullenweg ने भी एक कंटेट मैनेटमेंट सिस्टम पर काम करना शुरु कर दिया. और सन 2003 में अपने साथी Mike Little के साथ मिलकर WordPress का पहला संस्करण लांच कर दिया.

क्या आप जानते है?

वर्डप्रेस का नाम ‘WordPress‘ Mat Mullenweg के दोस्त Christine Selleck Tremoulet ने सुझाया था. मेट को नाम इतना पसंद आया कि उन्होने दूसरे नाम के बारे में सोचा भी नही और वर्डप्रेस नाम ही अपना लिया.  

मेट मुलेनवेग इसे अपने तक सीमित नहीं रखना चाहते थे. इसलिए उन्होने इस प्रोग्राम को मुफ्त रखा और दुनियाभर के प्रोग्रामर्स के लिए खोल दिया. इसका मतलब कोई भी प्रोग्रामर वर्डप्रेस पर काम कर सकता था. इसी का परिणाम था कि b2/cafelog के डवलपर Michel Valdrighi ने भी वर्डप्रेस को Core WordPress Developer के रुप में जॉइन कर लिया.

इस काम को संभालने के लिए वर्डप्रेस फाउण्डेशन की स्थापना की गई और वर्डप्रेस का फ्री वर्जन का संचालन इसी संस्था के दायरे में कर दिया. वर्डप्रेस कम्युनिटी दुनियाभर में मौजूद है इसलिए इसका विकास बहुत तेजी से हुआ और बिना विज्ञापन के लोकप्रियता भी मिली.

मेट एक चतुर बिजनेस मैन थे. तो उन्होने विज्ञापन का दूसरा जरिया निकाला. और वर्डप्रेस कम्युनिटी तथा वर्डप्रेस का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए WordCamps की शुरुआत की. आप भी अपने नजदीकि शहर में वर्डकैम्प के बारे में जानकारी लेकर इसे अटैंड कर सकते है.

आइए अब वर्डप्रेस के अबतक प्रकाशित वर्जन्स के बारे में जानते है.

2003 से अबतक वर्डप्रेस के दर्जनभर से ज्यादा वर्जन्स प्रकाशित किए जा चुके है. मेट को जैज म्युजिक बहुत पसंद है. इसलिए वे प्रत्येक नए संस्करण का नाम एक जैज संगीतकार के नाम ही रखते है. नीचे वर्डप्रेस के संस्करणों की जानकारी उनके नाम के साथ दी जा रही है.

Version                 Name                        Date

0.7                      –                       May 27, 2003

1.0               Miles Davis                   January 3, 2004

1.2               Charles Mingus               May 22, 2004

1.5               Billy Strayhorn                February 17, 2005

2.0               Duke Ellington                December 31, 2005

2.1               Ella Fitzgerald                January 22, 2007

2.2               Stan Getz                    May 16, 2007

2.3               Dexter Gordon                September 24, 2007

2.5               Michael Brecker               March 29, 2008

2.6               McCoy Tyner                 July 15, 2008

2.7               John Coltrane                December 10, 2008

2.8               Chet Baker                   June 11, 2009

2.9               Carmen McRae               December 18, 2009

3.0               Thelonious Monk              June 17, 2010

3.1               Django Reinhardt             February 23, 2011

3.2               George Gershwin             July 4, 2011

3.3               Sonny Stitt                   December 12, 2011

3.4               Grand Green                 June 13, 2012

3.5               Elvin Jones                   December 12, 2012

3.6               Oscar Peterson               August 1, 2013

3.7               Count Basie                  October 24, 2013

3.8               Charlie Parker                December 12, 2013

3.9               Jimmy Smith                  April 16, 2014

4.0               Benny Goodman              September 4, 2014

4.1               Dinah Washington            December 18, 2014

4.2               Bud Powell                   April 23, 2015

4.3               Billie Holiday                  August 18, 2015

4.4               Clifford Brown                December 8, 2015

4.5               Coleman Hawkins             April 12, 2016

4.6               Pepper Adams                August 16, 2016

4.7               Sarah Vaughan               December 6, 2016

4.8               Billy Evans                   June 8, 2017

4.9               Billy Tipton                   November 15, 2017

5.0               Bebo Valdes                  December 6, 2018

5.1               Betty Carter                  February 21, 2019

5.2               Jaco Pastorius                May 7, 2019

5.3               Kirk                November 12, 2019

5.4               Adderly                March 31, 2020

5.5               Eckstine                August 11, 2020

5.6               Simone                December 8, 2020

5.7               Esperanza                March 7, 2021


वर्डप्रेस के फायदें – Advantages of WordPress in Hindi?

वर्डप्रेस ऑपन सोर्स प्रोजेक्ट है जिसे कोई भी अपने हिसाब से बदलकर कमर्शियल प्रोजेक्ट में भी बिना किसी फीस के उपयोग कर सकता है. इसकी यहीं आजादी डवलपर और ब्लॉगर की पहली पसंद बनाती है. इसके अलावा वर्डप्रेस के बहुत सारे फायदें है. जिनके बारे में नीचे बता रहे है.

उपयोग करना आसान

वर्डप्रेस की सरलता के कारण ही आज यह ब्लॉगिंग के लिए पहली पसंद है. आप कुछ ही देर में इसके अनुकूल होकर अपना ब्लॉग शुरु कर सकते है. आपको ज्यादा तकनीकी होने की भी जरुरत नहीं है.

सभी प्रकार की साiट के अनुकूल

वर्डप्रेस एक बहुआयामी ब्लॉगिंग सॉफ्टवेयर है. जो आपको एक पर्सनल ब्लॉग से लेकर फुल फीचर वाली वेबसाइट बनाने कि सुविधा प्रदान करता है. आप एक वेबसाइट, बिजनेस साइट, खुद का ई-कॉमर्स स्टोर, पर्सनल प्रोफाइल, हॉबी वेबसाईट, फोटोग्राफी ब्लॉग, फैशन ब्लॉग, ग्रोसरी स्टोर, ऑनलाइन कम्युनिटी वेबसाइट, मेम्बरशिप साइट, सरकारी वेबसाइट, डिस्कशन फॉर्म, ऑनलाइन मैगजिन तथा न्यूज पोर्टल भी बना सकते है.

पूरा नियंत्रण

वर्डप्रेस के ऑपन-सॉर्स होने के कारण इसके ऊपर युजर का पूरा नियंत्रण रहता है. वह जब चाहे, जैसे चाहे इसका उपयोग अपने लाभ के लिए कर सकता है. जी हाँ. आप कमर्शियल प्रोजेक्ट्स में भी वर्डप्रेस का उपयोग बिना किसी रॉयल्टी अथवा शुल्क देय बगैर कर सकते है.

साथ ही आप जिस प्रोजेक्ट के लिए इसका उपयोग कर रहे है उसके ऊपर भी आपका फुल कंट्रोल रहता है. उसका डेटा आपके हाथों में ही रहता है. वर्डप्रेस के शब्दों में कहें तो आपकी साइट, आपका कंटेट, आपका डेटा.

कम्प्लीट पब्लिशिंग प्लैटफॉर्म

वर्डप्रेस एक कम्प्लीट पब्लिशिंग प्लैटफॉर्म है. जिसके द्वारा आप एम एस वर्ड की भांति कार्य कर सकते है. आप पोस्ट्स, पेज बना सकते है, उन्हे फॉरमैट कर सकते है, मीडिया इंसर्ट करा सकते है, संपादित कर सकते है. जब आपको तसल्ली हो जाए कि पोस्ट तैयार हो चुक है तो सिर्फ एक बटन के माध्यम से उसे दुनिया के लिए लाइव कर सकते है.  

आप चाहे तो पोस्ट को शेड्युल भी कर सकते है. उनका ड्राफ्ट बना सकते है. वर्डप्रेस आपके द्वारा संपादित किए गए प्रत्येक ड्राफ्ट को रिविजन के रूप में सेव करके भी रखता है.

कंटेट का प्रबंधन

वर्डप्रेस आपको सिर्फ एक क्लिक के माध्यम से पोस्ट प्रकाशित करने की सुविधा देता है. ना केवल आप पोस्ट प्रकाशित करते है बल्कि प्रत्येक पोस्ट, पेज तथा अन्य प्रकाशित कंटेट को दिन, महिना और वर्ष के अनुसार संजोके रखता है. इसलिए आपको कंटेट मैनेज करने का झंझट भी नही रहता. और आप जब चाहे तब किसी भी पोस्ट को संपादित कर सकते है.

मीडिया का प्रबंधन

जिस तरह पोस्ट्स तथा पेज्‌स का प्रबंध वर्डप्रेस करता है. ठीक उसी प्रकार युजर के द्वारा इंसर्ट मीडिया का भी गैलरी के माध्यम से अलग से उचित प्रबंध किया जाता है. ये सुविधा आपका काफि समय बचाती है.

युजर का प्रबंधन

यदि आपकी वेबसाइट पर एक से ज्यादा लेखक काम करते है तो उन्हे मैनेज करने की जिम्मेदारी भी वर्डप्रेस संभाल सकता है. और आप प्रत्येक युजर को उसके काम और अनुभव के अनुसार अलग-अलग रॉल दे सकते है. वर्डप्रेस ब्लॉग़ मालिक को Administrator मानता है और उन्हे By Default ये रॉल दे देता है. मगर, आप नहीं चाहेंग़े कि आपके अलावा हर किसी को आपकी साइट का पूरा नियंत्रण मिले. इसलिए वर्डप्रेस एडमिन के अलावा Editors, Authors, Contributors, Subscriber के रॉल उपलब्ध करवाता है. प्रत्येक रॉल की अपनी एक सीमा तय कर दी जाती है. और उस रॉल के अनुसार ही उसे वर्डप्रेस एक्सेस अधिकार देता है.

कस्टमाइजेशन की फुल सुविधा

वर्डप्रेस पर आप जैसी चाहे वैसी वेबसाइट बना सकते है और अपनी पसंद के अनुसार उसे कस्टमाइज भी कर सकते है. वर्डप्रेस इस कार्य के लिए थीम सिस्टम का उपयोग करता है. आप बस अपने डिजाइन के अनुसार थीम चुनिए, उसे इंस्टॉल कीजिए और एक्टिव कर दीजिए. आपकी साइट का डिजाइन बदल चुका है. और आपने अभी तक एक भी लाइन कोड की नहीं छूई है.

यदि आप थीम के डिजाइन से संतुष्ट नहीं तो आप थीम को भी कस्टमाइज कर सकते है. और उसे अपने अनुसार डिजाइन कर सकते है या फिर वेब डवलपर से करवा सकते है. वर्डप्रेस की थीम डायरेक्ट्री में आपको हजारों फ्री थीम इस्तेमाल करने के लिए मिल जाती है. और खुद की बनाई थीम भी उपयोग करने के लिए स्वतंत्र रहते है.

प्लग-इन्स के जरिए फंक्शेनेलिटी बढ़ाए

वर्डप्रेस जिस फीचर्स के साथ उपलब्ध होता है. उन्हे वर्डप्रेस प्लग-इन्स के जरिए बढ़ाया जा सकता है. और ये प्लग-इन्स भी आपको वर्डप्रेस प्लग-इन डायरेक्ट्री में मुफ्त मिल जाऐंगे. आप अपनी जरुरत के अनुसार प्लग-इन ढूँढ़कर इंस्टॉल करके एक्टिव कर सकते है. और प्लग-इन की सेवा जुड जाती है. यदि आप प्लग-इन से खुश नही है तो उसे डिएक्टिव कर सकते है या फिर डिलिट भी कर सकते है. डिलिट करने पर प्लग-इन आपके वेब सर्वर से रिमूव हो जाता है.

कमेंट की सुविधा

जब किसी विषय पर चर्चा होती है तो वह विषय सुधरकर ज्याया सटीक और उपयोगी बन जाता है. इस बात को ध्यान में रखते हुए वर्डप्रेस में आपकी पोस्ट पर चर्चा करने के लिए कमेंट सिस्टम उपलब्ध करवाया जाता है. कमेंट के माध्यम से प्राप्त पाठक के सवालों का जवाब दे सकते है, उन्हे मॉडिफाई कर सकते है और डिलिट भी कर सकते है. आप चाहे तो कमेंट बंध भी कर सकते है.

स्टैंडर्ड कोड तथा एसईओ के लिए तैयार

वर्डप्रेस की कोडिंग़ World Wide Consortium, जिसे W3C के नाम से जाना भी जाता है, के सभी स्त्तरों पर खरे उतरे है. इसलिए आपकी साइट मानक कोडिंग पर तैयार होती है. जिसे सर्च इंजन जैसे गूगल बहुत पसंद करते है तथा आपकी साइट को रैंक करते है. इसके अलावा वर्डप्रेस साइट सर्च इंजन ऑप्टीमाईज भी होती है. साथ ही मोबाइल रेसपॉनसिव थीम के जरिए मोबाइल फ्रेंडली भी होती है. आप वर्डप्रेस डायरेक्ट्री में मौजूद एसईओ प्लग-इन के माध्यम से अन्य ऑप्टीमाइज फीचर एड करके अपने WordPress Blog को ज्यादा SEO Friendly बना सकते है.

फ्री लाइफटाइम अपडेट्स

वर्डप्रेस एक कम्युनिटी आधारित प्रोजेक्ट है. इसलिए सपोर्ट के लिए किसी स्टाफ पर इसकी निर्भरता नही है. आप वर्डप्रेस के कम्युनिटी हेल्प फॉर्म द्वारा लाइव सपोर्ट पा सकते है.

सुरक्षित

वर्डप्रेस शुरुआत में सुरक्षा के कारण बहुत नदारद किया गया था. मगर, समय के साथ वर्डप्रेस फाउण्डेशन ने इसकी सुरक्षा पर काफी काम किया है और इसे वर्ल्ड क्लास सेफ्टी उपलब्ध करवाने का भरसक प्रयास किया है. साथ ही आप प्लग-इन्स के जरिए इसकी सुरक्षा को और बढ़ा सकते है. चुंकि समय-समय वर्डप्रेस नई तकनीक और कोडिंग मानकों के अनुसार अपडेट्स होता रहता है. मगर, हकिकत यहीं है कि आज भी सबसे ज्यादा हैकिंग़ अटैक वर्डप्रेस साइट पर ही होते है.

दुनियाभर में फैली वर्डप्रेस कम्युनिटी

वर्डप्रेस की एक खासियत यह है कि आपकी मदद के लिए वर्डप्रेस कम्युनिटी तैयार है. आप वर्डप्रेस हेल्प फॉर्म के जरिए किसी भी टॉपिक पर मदद मांग सकते है. और WordCamp को एटैंड करके वर्डप्रेस कम्युनिटी से फेस-टू-फेस मिल सकते है साथ में वर्डप्रेस के बारे में ओर ज्यादा सीख सकते है. WordPress TV, WordPress Blog, WordPress FM, WordPress Posts, WordPress Tutorials आदि वर्डप्रेस को सबसे मददगार प्लैटफॉर्म में भी गिनती कराने के लिए पर्याप्त है.

सबका साथ, सबका विकास

वर्डप्रेस इस वाक्य के साथ पूर्ण न्याय करती है. एक कम्युनिटी आधारित प्लैटफॉम होने के नाते आप भी वर्डप्रेस के विकास में योगदान दे सकते है. आप वर्डप्रेस के बारे में अपने ब्लॉग़ पर लिख सकते है. हेल्प फॉर्म पर लोगों के सवालों के जवाब दें सकते है, वर्डप्रेस को अपनी मातृ-भाषा में अनुवाद करने में मदद दे सकते है.

वर्डप्रेस का उपयोग कैसे करें – How to Use WordPress in Hindi?

वर्डप्रेस का उपयोग आप कई तरीकों से कर सकते है. ये आपके उद्देश्य पर निर्भर करता है कि आप वर्डप्रेस को किस तरह इस्तेमाल करना चाहेंग़े. यदि आप एक डवलपर है तब आप इसे अपने कम्प्युटर में इंस्टॉल करके वर्डप्रेस प्रोजेक्ट पर काम करना चाहेंग़े. और एक ब्लॉग़र होने के नाते आप इस ब्लॉग़िंग प्लैटफॉर्म को सी पैनल के माध्यम से अपने वेब सर्वर पर इंस्टॉल करके ही संतुष्ट हो सकते है.

वर्डप्रेस को कम्प्युटर में इंस्टॉल कैसे करते है और वर्डप्रेस को वेब सर्वर पर कैसे इंस्टॉल करें? इन सवालो के जवाबों की यहाँ चर्चा करना लाजमी नही होगा. क्योंकि ये दोनों विषय इस लेख की विषय-वस्तु से बाहर है. इसलिए इनके बारे में तो अलग से लेख ही लिखना पड़ेगा.


वर्डप्रेस से पैसे कैसे कमायें – How to Make Money with WordPress?

वर्डप्रेस से आप सच-मुच पैसे कमा सकते है!

वर्ड्प्रेस फ्री जरूर है. मगर, इसके साथ दर्जनों तरीकों से आप पैसे कमा सकते है. नीचे हम आपको कुछ तरीकों के बारे में बता रहे है. यदि एकाध छूट जाए तो आप कमेंट में जरूर बताएं.

वर्डप्रेस ब्लॉग़ बनाए

सबसे पहला तरीका है कि आप खुद का वर्डप्रेस ब्लॉग बनाए. ऑनलाईन पैसे कमाने के तरीकों में से लोगों की पहली पसंद ब्लॉगिं ही होती है. और हम खुद भी इस तरीके को आजमा चुके है. इसलिए ब्लॉगिंग करना आपके लिए फायदे का सौदा हो सकता है. वर्डप्रेस ब्लॉग़ से पैसे कमाने के लिए उसे मोनेटाइज करने के लिए गूगल एडसेंस, स्पॉसंर पोस्ट, विज्ञापन, खुद के प्रोड्क्ट्स बेचना आदि तरीकों का उपयोग कर सकते है.

वर्डप्रेस थीम और प्लग-इन डवलप करें

यदि आपकी रुचि कोडिंग़ में है. तब आप वर्डप्रेस थीम और प्लग-इन डवलप करके उन्हे बेच सकते है. आज इंटरनेट पर कई ऑनलाइन स्टोर मौजूद है जहाँ पर वर्डप्रेस थीम्स तथा वर्डप्रेस प्लग-इन्स बेचे जाते है. आप वन-टाईम सेल के अलावा सबस्क्रिपशन आधारित प्लान के जरिए भी अपने प्रोडक्ट्स बेच सकते है.

प्रीमियम सपोर्ट दें

हर कोई वर्डप्रेस को अपने अनुसार कस्टमाइज नहीं कर सकता है. इसलिए, एक वर्डप्रेस डवलपर के पास लोगों की इस कार्य में मदद करके पैसा कमाने की बहुत संभावना है. आप थीम डिजाइनिंग, ब्लॉग़ सेटअप, टेक्निकल सपोर्ट आदि कार्य करके प्रीमियम सपोर्ट उपलब्ध करा सकते है.  

वर्डप्रेस की ट्रैनिंग दें

आप चाहे तो दूसरों को वर्डप्रेस सिखाकर भी पैसा कमा सकते है. वर्डप्रेस थीम डवलप करना, थीम डिजाइन करना, चाईल्ड थीम डिजाइन करना, प्लग-इन डवलप करना, ब्लॉग पर वर्डप्रेस इस्तेमाल करना आदि से संबंधित ट्रैनिंग़ आप लोगों को उपलब्ध करा सकते है. ट्रैनिंग देने के लिए आप किसी ट्रैनिंग संस्थान में एक ट्रैनर के रूप में जॉब कर सकते है. या फिर किताब लिखकर, युट्यूब पर विडियों बनाकर, ऑनलाइन कोर्स के माध्यम से तथा अन्य माध्यम जो आपको उपयुक्त लगे उसका चुनाव कर सकते है.

ये कुछ तरीके है जिनके माध्यम से आप अपना वर्डप्रेस आधारित ऑनलाइन बिजनेस शुरु कर सकते है और पैसा कमा सकते है.


आपने क्या सीखा?

इस लेख में हमने आपको वर्डप्रेस के बारे में पूरी जानकारी दी है. आपने जाना कि वर्डप्रेस क्या होता है? वर्डप्रेस का उपयोग कैसे करते है? वर्डप्रेस के फायदें और वर्डप्रेस से पैसे कैसे कमाते है? इस बारे एमं जाना है. साथ ही आपने WordPress.org एवं WordPress.com में अंतर भी समझे है. हमे उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा.

#BeDigital

1 Comment

  • सबकुछ तो ठीक है और जैसा की अपने बताया की पूरा नियंत्रण, यही कई बार hacking की समय भी बन जाती है, और हां आपके द्वारा provide की गई जानकारी no.1 है thanks

Leave a Comment