Chrome

Chrome Browser Interface की पूरी जानकारी हिंदी में

प्रत्येक कम्प्युटर प्रोग्राम पर काम करने के लिए कुछ टूल और बटन होती है. जिनके द्वारा युजर अपना कार्य विशेष को पूरा करता है. ये टूल और बटन एक विशेष प्रकार से सजाए जाते है. और इनकी सजावट और बनावट से ही किसी भी प्रोग्राम का Interface/Layout बनता है.

इस Tutorial में हम आपको Google Chrome Browser के Interface की पूरी जानकारी देंग़े. जिसमें आप जानेंग़े कि Chrome Browser का Layout कैसा होता है? और Chrome Browser Layout में उपलब्ध प्रत्येक टूल का क्या नाम है और क्या उपयोग होता है?


Google Chrome Interface in Hindi

नीचे Chrome Browser Layout दिया जा रहा है. जिसमें प्रत्येक टूल को एक नंबर विशेष दिया गया है. ये नंबर एक विशेष टूल का प्रतिनिधित्व करता है. जिसके बारे में आप थोडी ही देर में जान लेंग़े.

Chrome Browser Layout and Tools Name in Hindi
  1. Close Tab – यह बटन प्रतयेक खुली हुई टैब में होता है. इस बटन को Close Button कहते है. और इसके द्वारा वर्तमान में खुली हुई टैब को बंद किया जाता है. आप जिस टैब को बंद करना चाहते है सिर्फ वही टैब ही बंद होती है. पूरा प्रोग्राम बंद नही होता है. इसका मतलब आप क्रोम ब्राउजर में अपना काम जारी रख सकते है.
  2. New Tab – ब्राउजर में जो भी वेबसाईट खुलती है वह एक टैब में खुलती है. यदि आप कोई दूसरी वेबसाईट भी खोलना चाहते है. तो वह वेबसाईट हमे दूसरी टैब में ही खोलनी पडेगी. जिसके लिए पहले हमें एक टैब खोलनी पडेगी. जो कार्य New Tab Button द्वारा किया जाता है.
  3. Bookmark Button – Address Bar में मौजूद तारा का बटन दो कार्य करता है. पहला आप वर्तमान में खुले हुए वेबपेज को Bookmark बना सकते है. अब इसका कलर काला रहता है. और दूसरा काम इसका यह है कि आपने अगर पहले से किसी वेबपेज को बुकमार्क बनाया हुआ है तो उसे बताता है कि आपने इस पेज को बुकमार्क किया हुआ है. इस स्थिति में इसका कलर नीला रहता है.
  4. Minimize – इस बटन को Minimize Button कहा जाता है. इस बटन के द्वारा ब्राउजर Taskbar पर चला जाता है. मगर पूरी तरह बंद नही होता है. इस दौरान आप कम्प्युटर पर कोई दूसरा कार्य कर सकते है.
  5. Maximize/Restore down – इस बटन को दो नामों से जाना जाता है. और ये दोनों नाम इसके दो कामों के कारण दिए गए है. इस बटन द्वारा ब्राउजर विंडों को छोटा-बडा किया जाता है. जब ब्राउजर विंडों को छोटा किया जाता है तो इस क्रिया को Restore down कहते है. और जब ब्राउजर विंडों को बडा किया जाता है तब इस कार्य को Maximize करना कहा जाता है.
  6. Close – इस बटन द्वारा ब्राउजर को बंद किया जाता है. इसलिए इस बटन का नाम Close रखा गया है.
  7. Back – इसे Back बटन के नाम से जाना जाता है. यानि आप इस बटन के द्वारा वर्तमान वेबसाईट से पहले खोली गई वेबसाईटों पर जा सकते है.
  8. Forward – यह बटन Back Button के विपरीत कार्य करता है. यानि आप Back जाने के बाद वापस वर्तमान वेबसाईट पर आ सकते है.
  9. Refresh – इस बटन को Refresh बटन के नाम से जाना जाता है. और इसका कार्य वर्तमान में सामने खुले हए वेबपेज को Refresh करना होता है. ताकि उसमें हुए बदलाव देखे जा सके.
  10. URL – यह वेबसाईट का पता होता है. इसे Web Address कहा जाता है.
  11. Address Bar – इस पूरे बॉक्स को Address Bar कहा जाता है. इस बॉक्स में आप वेबसाईट का पता लिखते है और उसे सर्च करते है.
  12. Extensions – यह Chrome Browser में इंस्टॉल Extensions के आईकन है. यहाँ से आप सीधे आईकन पर एक क्लिक करके Extensions को लॉच कर सकते है.
  13. User Icon – आपने जिस गूगल अकाउंट से क्रोम ब्राउजर में Log in किया हुआ है. यह फोटों उस गूगल अकाउंट की प्रोफाईल फोटों होती है.
  14. Settings – ये तीन डॉट्स क्रोम ब्राउजर की सेटिंग होती है. इन पर क्लिक करके आप गूगल क्रोम ब्राउजर की सेटिंग खोल सकते है और अपने अनुसार कस्टमाईज कर सकते है.
  15. Gmail – यह Gmail बटन होता है. इसके द्वारा आप सीधे Gmail को खोल सकते है और अपने ईमेल पढ सकते है, लिख सकते है और जवाब दे सकते है. आपको अलग से जीमेल खोलने की जरूरत नही है.
  16. Images – इस बटन द्वारा आप Google Image Search को एक्टिव कर सकते है. और अपने लिए Google पर Image Search कर सकते है.
  17. Apps – इस बटन का नाम Apps है. इस बटन द्वारा आप अन्य लोकप्रिय गूगल उत्पाद तक पहुँच सकते है.
  18. Notifications – इसे नोटिफिकेशन बटन कहते है. यह एक घंटी के निशान की तरह होता है. इस बटन के द्वारा आप गूगल से प्राप्त कोई भी नोटिफिकेश देख सकते है.
  19. User Profile Image – इस फोटों के द्वारा आप अपने गूगल अकाउंट को मैंनेज कर सकते है. अन्य गूगल अकाउंट जोड सकते है, हटा सकते है और Sign Out भी हो सकते है.
  20. Search Bar – इसे बॉक्स को सर्च बार कहते है. और यह ऊपर बताई गई Address Bar से थोडी-सी अलग होती है. क्योंकि यह बॉक्स सर्च इंजन के हिसाब से काम करती है. सर्च बार द्वारा आप कीवर्ड द्वारा अपने लिए इंटरनेट से जानकारी सर्च कर सकते है. आपको वेबसाईट का नाम लिखने की कोई जरूरत नही है.
  21. Shortcut – आप जिन वेबसाईटों को अन्य वेबसाईटों की तुलना में ज्यादा बार सर्च करते है और खोलते है. उनको क्रोम ब्राउजर Shortcut के रूप में जोड देता है. ताकि आपको अपनी फेवरिट वेबसाई का वेब पता बार-बार लिखना नही पडे. आप इस शॉर्टकट पर क्लिक करके ही वेबसाईट पर जा सकते है.
  22. Add Shortcut – इस बटन द्वारा आप खुद भी किसि भी वेबपेज का शोर्टकट बना सकते है. और उसे यहाँ जोड सकते है.

आपने क्या सीखा?

इस Tutorial में हमने आपको Google Chrome Browser के Interface/Layout के बारे में पूरी जानकारी दी है. आपने जाना कि Chrome Browser में उपलब्ध प्रत्येक बटन का क्या नाम है और इनका इस्तेमाल किस काम के लिए किया जाता है. हमे उम्मीद है कि यह Tutorial आपके लिए उपयोगी साबित होगा.

#BeDigital

Leave a Comment