Gmail How To

Gmail 2 Step Verification Activate करें और बनाएं जीमेल को मजबूत रहोगे हैकर्स से दूर

Google 2-Step Verification एक बहुत ही पॉपुलर ऑथेंटिकेशन सर्विस है जिसका इस्तेमाल आप फ्री में कर सकते हैं और सबसे बड़ी बात यह है कि इससे आपको बहुत सारे फायदे भी प्राप्त होते हैं.

आप सिर्फ अपनी ईमेल आईडी के लिए ही नहीं बल्कि, इंस्टाग्राम और फेसबुक आईडी के लिए भी टू स्टेप वेरीफिकेशन के सिस्टम को इनेबल कर सकते हैं. इसमें आपको हर बार अपनी ईमेल आईडी में लॉग इन करने के लिए एक ओटीपी डालना पड़ता है जो ऐसी अवस्था में आपके लिए फायदेमंद होता है, जब किसी अन्य व्यक्ति को आपकी ईमेल आईडी और उसका पासवर्ड पता चल जाता है.


Gmail टू-स्टेप वेरीफिकेशन क्या है?

टू स्टेप वेरीफिकेशन का इस्तेमाल अपनी जीमेल आईडी को सुरक्षित करने के लिए किया जाता है. यह एक प्रकार की सिक्योरिटी प्रक्रिया होती है और जो भी व्यक्ति अपनी जीमेल आईडी पर वेरिफिकेशन सिस्टम को इनेबल करके रखता है उसकी ईमेल आईडी हैक होने की संभावना काफी ज्यादा कम हो जाती है, क्योंकि आजकल लोग ऑनलाइन फ्रॉड करने के लिए कई तरीके अपनाते हैं जिसमें से ईमेल आईडी को हैक करने का तरीका भी पॉपुलर तरीका है.

जब आप गूगल टू-स्टेप वेरीफिकेशन का सिस्टम इनेबल कर देते हैं तो कोई भी व्यक्ति आसानी से आपकी ईमेल आईडी को हैक नहीं कर पाता है. ना ही वह किसी भी तरीके से आपकी ईमेल आईडी में लॉगिन कर पाता है, यहां तक कि उसके पास आपकी ईमेल आईडी का पासवर्ड ही क्यों ना हो.

2-Step Verification में आपके फोन नंबर पर एक ओटीपी जाता है और उस ओटीपी को जब आप डालते हैं तभी आपकी ईमेल आईडी में लॉगइन क्रिएट होता है. ऐसे में अगर कोई व्यक्ति आपकी ईमेल आईडी और पासवर्ड को प्राप्त करके लॉगिन करने की कोशिश करेगा तब भी लोग इन नहीं होगा क्योंकि जो ओटीपी होगा वह आपके फोन पर ही आएगा.


Gmail टू स्टेप वेरीफिकेशन कैसे Activate करें?

आजकल हैकिंग काफी ज्यादा बढ़ गई है. इसलिए ऑनलाइन ठगी के मामले भी काफी ज्यादा सामने आ रहे हैं. ठगी कई प्रकार की होती है जिसमें ईमेल आईडी की ठगी भी शामिल होती है, जिसके अंतर्गत कई लोग आपकी ईमेल आईडी को हैक करने के लिए तरह-तरह के तरीके अपनाते हैं.

इसलिए, गूगल ने ईमेल आईडी को मजबूत सिक्योरिटी प्रदान करने के लिए टू स्टेप वेरीफिकेशन के सिस्टम को अपने ग्राहकों के लिए बनाया है. जिसके जरिए वह अपनी ईमेल आईडी को हैक होने से बचा सकते हैं. नीचे आपको यह बताया जा रहा है कि कैसे आप जीमेल में टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल कर सकते हैं.

स्टेप: #1 Gmail App को ओपन करें

गूगल टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल करने के लिए सबसे पहले अपने स्मार्टफोन में मौजूद जीमेल एप्लीकेशन को ओपन करें. इसे ओपन करने के लिए एप आइकन पर एक बार टैप करें. ऐसा करते ही जीमेल एप आपके सामने ओपन हो जाएगा और आपको मेल दिखाई देने लग जाएंगे.

स्टेप: #2 Gmail ID चुने

एप्लीकेशन ओपन हो जाने के बाद उस ईमेल आईडी का सिलेक्शन करें जिसपर आप टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल करना चाहते हैं. ईमेल आईडी का सिलेक्शन कर लेने के बाद आपको Google Account के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है. ऐसा करते ही आपके सामने कुछ और विकल्प ओपन होंगे. यहां से आपको Security वाले ऑप्शन को ढूंढना है और प्राप्त हो जाने पर उसके ऊपर टैप कर देना है.

Gmail 2 Step Verification Security Tab

स्टेप: #3 2-Step Verification पर जाएं

सेक्युरिटी पर टैप करने के बाद आपके सुरक्षा से जुड़ी सभी सेटिंग्स सामने आ जाएगी. यहां से आपको स्क्रॉल डाउन करके थोड़ा सा नीचे आना है. वहीं पर आपको 2-Step Verification का ऑप्शन दिखाई देगा. आपको इसपर टैप कर देना है.

Gmail 2 Step Verification Option

ऐसा करने के बाद आपके फोन में इनबिल्ट किसी भी ब्राउज़र में एक नई विंडो ओपन होकर आ जाएगी. आपको इस विंडो में थोड़ा नीचे की साइड में आना है. वहां पर आपको Get Started की बटन पर टैप करके आगे बढ़ना है. सहायता के लिए ऊपर वाला स्क्रीनशॉट देखिए.

स्टेप: #4 अकाउंट वेरिफाई करवाएं

अब जिस ईमेल आईडी का सिलेक्शन आपने टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल करने के लिए किया है. उसे वेरिफाई करवाने के लिए कहा जाएगा. वेरिफाई करवाने के लिए उस ईमेल आईडी के पासवर्ड को आपको दिए गए खाली बॉक्स में भरना है और फिर Next बटन दबा देनी है.

Gmail 2 Step Verification Verify Account

स्टेप: #5 कोई भी एक 2FA Method एक्टिव करें

अकाउंट वेरिफाई होने के तुरंत बाद आपके सामने गूगल द्वारा तैयार सभी 2FA Methods आ जाएंगे. सबसे पहले यह Security Prompts अपने आप एक्टिव कर देता है. इसके तहत आपके स्मार्टफोन पर एक स्क्रीन पॉप-अप होकर आती है जिसमें आपसे Yes करवाने के बाद ही अकाउंट लॉगिन हो पाता है.

लेकिन, गूगल आपसे एक बैकअप मेथड और मांगता है. जिसे एक्टिव करने के लिए आप Continue बटन पर टैप करके आगे बढ़े.

Gmail 2 Step Verification Select 2FA Method

अब दिए गए खाली बॉक्स में आपको उस फोन नंबर को टाइप करना है जिसपर आप OTP पाना चाहते हैं. और इसके बाद नीचे आपको इस बात का सिलेक्शन करना है कि आप कोड फोन कॉल के जरिए पाना चाहते हैं या फिर टेक्स्ट मैसेज के जरिए पाना चाहते हैं. दोनों में से किसी भी ऑप्शन का सिलेक्शन करने के बाद आपको Send बटन दबा देनी है. हमने यहां पर टेक्स्ट मैसेज के ऑप्शन का सिलेक्शन किया है.

Gmail 2 Step Verification Type Mobile Number

अब आपको एक कोड अपने फोन नंबर पर प्राप्त हुआ होगा, उस कोड को आपको Enter the Code वाले सेक्शन में दिए गए खाली बॉक्स में डालना है और उसके बाद Next बटन आपको दबा देनी है.

Gmail 2 Step Verification Type OTP

अब आपको अपनी स्क्रीन पर टर्न ऑन टू स्टेप वेरिफिकेशन करने के लिए कहा जाएगा, इसे करने के लिए आपको नीचे की साइड में आना है और नीले कलर के डब्बे में लिखे हुए Turn on बटन को दबा देना है.

Gmail 2 Step Verification Turn On 2FA

बधाई हो इतनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद अब आपकी ईमेल आईडी पर गूगल टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल हो चुका है. यानि अब आपका जीमेल अकाउंट डबल सेक्योर हो चुका है.


Gmail से 2 Step Verification Disable कैसे करते हैं?

जिस प्रकार आप कुछ ही मिनटों में जीमेल में टू स्टेप वेरीफिकेशन को अपनी ईमेल आईडी पर एक्टिव करते हैं. उसी प्रकार आप कुछ ही मिनटों के अंदर बड़ी ही आसानी से अपनी जीमेल आइडी से टू स्टेप वेरिफिकेशन Deactivate भी कर सकते हैं. इसके लिए नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन आपको करना है.

  1. अपने स्मार्टफोन में मौजूद जीमेल एप्लीकेशन को ओपन करें.
  2. जीमेल एप्लीकेशन ओपन हो जाने के बाद उस ईमेल आईडी का सिलेक्शन करें जिस पर आपने टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल किया है.
  3. ईमेल आईडी ओपन हो जाने के बाद Security वाले ऑप्शन को ढूंढे और उस पर टैप कर दें.
  4. अब स्क्रोल डाउन करके थोड़ा सा नीचे आएं और 2 Step Verification के ऑप्शन पर टैप करें.
  5. अब ओपन हुई नई विंडो में अपनी ईमेल आईडी के पासवर्ड को दिए गए खाली जगह में भरें और फिर Next पर टैप कर दें.
  6. अब आपको अपने मोबाइल फोन की स्क्रीन के बीचों-बीच में ही Turn off की बटन नीले कलर के बॉक्स में दिख रही होगी, उसे दबा दें.
  7. बस इतना करते ही जीमेल से टू स्टेप वेरिफिकेशन डीएक्टिवेट हो जाएगा.

टू स्टेप वेरीफिकेशन कैसे काम करता है?

इसे हम एक उदाहरण के साथ समझेंगे. मान लीजिए किसी व्यक्ति के पास आपकी ईमेल आईडी है और उसका पासवर्ड भी उसे पता है और वह कुछ अवैध कामों को करने के लिए आपकी ईमेल आईडी को कहीं पर लॉग इन करना चाहता है.

अगर आपने गूगल टू स्टेप वेरीफिकेशन उस ईमेल आईडी पर एक्टिव करके रखा है जो ईमेल आईडी इल्लीगल काम करने की इच्छा रखने वाले व्यक्ति के पास है तो जब भी वह कहीं पर भी ईमेल आईडी को लॉग इन करने की कोशिश करेगा तो एक OTP आपके पास जो फोन नंबर मौजूद है जिसे आपने टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल करने हेतु कोड प्राप्त करने के लिए इस्तेमाल किया था उस पर एक OTP आएगा जो सिर्फ आपको ही पता होगा.

इस प्रकार भले ही सामने वाले व्यक्ति के पास आपकी ईमेल आईडी का पासवर्ड और ईमेल आईडी क्यों ना हो वह आपकी ईमेल आईडी में लॉगिन तब तक नहीं कर पाएगा, जब तक आप उसे अपने फोन नंबर पर आए हुए OTP को नहीं बताते हैं.

हैकर्स से आपके अकाउंट की सेफ्टी के लिए यह अतिरिक्त सुरक्षा चरण जोड़ा गया है. जिससे सही व्यक्ति की पहचान सुनिश्चित करने में आसानी होती है. सिर्फ पासवर्ड से पहचान करने में जोखिम था जिसे 2FA तकनीक ने ना के बराबर कर दिया है.


टू स्टेप वेरीफिकेशन के फायदे क्या है?

आपकी जानकारी के लिए बता दें, टू स्टेप वेरीफिकेशन अलग-अलग उद्देश्यों के लिए इनेबल किया जाता है और इसलिए इसके फायदे भी अलग-अलग होते हैं.

  • अगर आपने अपनी जीमेल आईडी पर टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल किया है तो इसके कारण कोई भी व्यक्ति आपकी ईमेल आईडी को हैक करने की चाहे कितनी भी कोशिश क्यों ना कर ले, वह आपकी ईमेल आईडी को हैक नहीं कर पाएगा. क्योंकि, टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल होने के कारण भले ही उसके पास आपकी ईमेल आईडी और उसका पासवर्ड क्यों ना हो, उसे ईमेल आईडी में लॉगिन करने के लिए OTP की आवश्यकता पड़ेगी जो सिर्फ आपके फोन नंबर पर ही आएगी जो कि आपने टू स्टेप वेरीफिकेशन एनेबल करने के दरमियान दी थी.
  • टू स्टेप वेरीफिकेशन इनेबल हो जाने के कारण आपका अकाउंट हैक होने की संभावना काफी ज्यादा कम हो जाती है.
  • टू स्टेप वेरिफिकेशन इनेबल होने के कारण आप ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते समय निश्चिंत होते हैं. क्योंकि, हर बार आपको ट्रांजैक्शन करने के लिए ओटीपी डालना पड़ता है.

टू स्टेप वेरीफिकेशन के नुकसान क्या है?

जिस प्रकार टू स्टेप वेरीफिकेशन के कुछ फायदे हैं उसी प्रकार इसके कुछ नुकसान भी हैं. अगर इसके नुकसान के बारे में बात की जाए तो जितनी बार आप अपनी ईमेल आईडी में लॉगिन करने का प्रयास करेंगे उतनी बार आपको अपने फोन को अपने पास रखना पड़ेगा.

क्योंकि, हर बार आपको लॉग इन करने के लिए ओटीपी की आवश्यकता पड़ेगी ही.

  • अगर,  कभी आपका फोन खो जाता है, तो आपको अपनी ईमेल आईडी को एक्सेस करने में समस्या का सामना करना पड़ सकता है. काफि मशक्कत के बाद ही आप लॉगिन कर पाएंगे. क्योंकि, बिना ओटीपी के आप अपनी ईमेल आईडी में लॉगिन क्रिएट नहीं कर पाएंगे.
  • लॉगिन करने की प्रोसेस में एक और स्टेप जुड़ने से लॉगिन का समय बढ़ जाता है. आपको हर बार यह अतिरिक्त समय देना पड़ता है.

आपने क्या सीखा?

इस ट्युटोरियल में हमने आपको Gmail में डबल सेक्युरिटी लगाने का एक आसान और सेक्योर तरीका बताया है. आपने जाना कि जीमेल में 2 स्टेप वेरिफिकेशन कैसे एक्टिव करते हैं और इसे चालु करने के क्या-क्या फायदे होते हैं.

साथ ही आपने जाना कि इस सुरक्षा को लगाने से क्या-क्या नुकसान होते हैं. हमे उम्मीद है कि यह ट्युटोरियल आपको पसंद आएगा और आपके लिए उपयोगी साबित होगा.

#BeDigital

5 Comments

  • आज हम बात करने वाले है इस “Create Label in Gmail Account” टॉपिक पर, यह आपके लिए महत्वपूर्ण है। अगर आप Gmail का इस्तेमाल करते है। आप किसी कम्पनी मे काम कर रहे हो जहा पर अलग अलग डिपार्टमेन्ट होते है। जैसे एक Account का Department है , एक टैक्सेसन का डिपार्टमेन्ट है, एक Finance का डिपार्टमेन्ट है। अलग अलग डिपार्टमेन्ट है। जिन मे दस दस लोग काम कर रहे है। अब होता क्या है हर दो या तीन दिन मे आपको डाटा भेजना पड़ता है। अब अगर आपको किसी को डाटा भेजना है। अभी तक आप Compose मे जाओगे फिर यहा पे जिसको भी Email भेजना है। उसका Email यहा पे लिखोगे फिर दूसरे का ईमेल यहा पे लिखोगे। फिर तीसरे का Email यहा पे लिखोगे। फिर आप Data भेजोगे तो सोचो दस या बीस लोग का Email लिखने मे आपको बहुत टाइम लग जायेंगा। – Create Label in Gmail Account || जीमेल में लेबल कैसे मैनेज करें?

Leave a Comment