Articles

IMEI Number क्या होता है और इसे कैसे चैक करते है पूरी जानकारी हिंदी में

जिस तरह हम इंसानों को पहचानने के लिए नाम दिया जाता है. कम्प्युटरों का IP Address होता है. ठीक उसी प्रकार मोबाईल डिवाइसों की अपनी अलग पहचान होती है. इस सार्वभौमिक पहचान को IMEI Number कहते है.

इस लेख में हम आपको IMEI Number के बारे में पूरी जानकारी दे रहे है. अध्ययन की सुविधा के लिए इस लेख को निम्न भागों में विभाजित किया है.


IMEI Number Kya Hai in Hindi
IMEI Number

IMEI Number क्या है – What is IMEI Number in Hindi?

Terristrial Cellular Network का उपयोग करने वाले डिवाइसों की पहचान के लिए दिया गया सार्वभौमिक युनिक नंबर IMEI Number कहलाता है. जो आमतौर पर 15 अंकों का होता है जिसे फोन की बैटरी के नीचे एम्बेड किया जाता है.

Terristrial Cellular Network का मतलब होता है इंटरनेट तथा कॉलिंग के लिए के लिए धरती पर मौजूद एंटिनाओं (टावर्स) का उपयोग करने वाला नेटवर्क जिसमें 3GPPP (3rd Generation Partnership Project) द्वारा मोबाईल टेलिफोनी के लिए बनाए गए प्रोटोकॉल्स का उपयोग करने वाले नेटवर्क शामिल है. जैसे; GSM, GPRS, EDGE, LTE, VoLTE, 2G, 3G, 4G, 5G आदि.

IMEI Number प्रत्येक सेलुलर डिवाईस के लिए सार्वभौमिक विशिष्ट पहचान (Universal Unique Identity) स्थापित करता है. और उसे इंटरनेट पर अपनी पहचान दर्ज कराने का साधन उपलब्ध करवाता है. डिवाईस की पहचान स्थापित होने के बाद Subscriber (SIM) डेटा की अनुमति देते है और उसे इंटरनेट से जोड़ते है.

IMEI Number में आपके मोबाइल डिवाईस से संबंधित अनेक जानकारी कुट रहती है. मसलन, मोबाइल निर्माता का नाम, निर्माण देश और मॉडल नंबर आदि. इस नंबर को मोबाइल निर्माता निर्माण के दौरान ही फोन की बॉडि में एम्बेड करते है. ताकि बाद में इनसे छेड़खानी ना हो सके.

सभी सेलुलर फोन जो GSM Network का उपयोग करते है उनका IMEI Number EIR – Equipment Identity Register में स्टोर किये जाते है. जिसमें सभी वैद्य (Legal) IMEI Number दर्ज रहते है.

आमतौर पर एक डिवाईस का एक IMEI Number ही रहता है. मगर आपका फोन ड्युल सिम सपोर्ट करता है. तब आपके फोन के दो IMEI Number होंगे.

ध्यान दें

भारत सरकार 30 नवम्बर 2009 से बगैर IMEI Number और Fake IMEI Number वाले डिवाईसों को प्रतिबंध कर चुकि है. यह कानूनी अपराध है.


IMEI Number की बनावट – Format of IMEI Number

आमतौर पर एक IMEI Number 15 डिजिट्स का होता है. मगर कुछ परिस्थियों में ये संख्या 16 और 17 भी हो जाती है. जो संबंधित मोबाइल फोन का मॉडल नंबर, निर्माण स्थल और निर्माता की जानकारी समाए रहतता है.

3GPPP TS 23.003 में IMEI Number का Structure के बारे में विस्तार से बताया गया है. इसके अनुसार IMEI Number 15 अंको का होगा (14 अंक + एक Check Digit) जिसका क्रम इस प्रकार होगा,

AA-BBBBBB-CCCCCC-D

AA – शुरुआत के दो अंक Reporting Body Identifier नंबर होते है जो TAC का ही एक भाग है. ये संख्या GSMA द्वारा अप्रुव्ड ग्रुप की पहचान है.

BBBBBB – यह भाग छह अंको का होता है जो TAC (Type Allocation Code) का दूसरा भाग है. जिसमें मोबाइल फोन का ब्रांड और मॉडल की जानकारी होती है.

CCCCCC – अगला भाग फिर छह अंकों का होता है. जो Serial Number होता है.

D – इसे Check Digit कहते है. जिसकी गणना Luhn Formula/Algorithm द्वारा की जाती है.

ऊपर संरचना को समझने से हम कह सकते है कि IMEI Number तीन भागों में बंटा रहता है. पहला भाग TAC जो कुल 8 अंकों का होता है जो दो भागों में विभाजित रहता है. दूसरा भाग छह अंको का होता है और अंतिम यानी तीसरा भाग केवल एक अंक का होता है जो Check Digit के नाम से जाना जाता है.


Luhn Formula द्वारा Check Digit की गणना करना

आप खुद अपने IMEI Number की अंतिम संख्या Check Digit को Calculate कर सकते है. इस अंक की गणना Luhn Formula, जिसे 1960 में एक गणितज्ञों के एक समूह द्वारा विकसित किया गया था, द्वारा की जाती है. Luhn Algorithm सार्वजनिक है इसलिए इसका उपयोग कोई भी कर सकता है.

Luhn Formula द्वारा तीन चरणों में गणना की जाती है.

  1. दाएं तरफ से शुरु करते हुए एक अंक को छोड़कर दोगुना कर दीजिए (यथा 5 à  10)
  2. संख्याओं का जोड़ इस प्रकार कीजिए (यथा 10 à 1+0)
  3. अब सभी संख्याओं का योग कीजिए और योग को 10 से भाजक बनाइये. जो संख्या जुड़ेगी वह Check Digit होगा.

इसे एक उदाहरण से समझने का प्रयास करते है. जिसके लिए हमें एक IMEI Number की जरूरत पड़ेगी. हम यहाँ समझाने के लिए एक मॉडल IMEI Number ले रहे है आप चाहे तो अपना खुद का नंबर भी ले सकते है या फिर इसी से गणना करना सीख सकते है.

Model IMEI Number – 357998053528067

अब हम यहाँ ज्ञात करेंगे की यहाँ मौजूद 7 अंक कैसे आया है?

क्या आप तैयार है?

यस! तो चलिए शुर करते है गणना.

Step: #1 संख्याओं को दोगुना करें  

संख्याओं को दोगुना करने के लिए हमने वहीं नियम का पालन किया है जिसके बारे में ऊपर बताया जा चुका है. आप भी इसी तरह करें. और अपनी गणना का मिलान करें.

IMEI Number Calculation Table

Step: #2 संख्याओं का जोड़ करें

संख्याओं का जोड़ इस प्रकार होगा यानी स्टेप 2 के अनुसार जैसे ऊपर वर्णन किया गया है. इन संख्याओं का कुल योग 53 आया है. यदि आपने भी सही गणना की है तो आपको भी यहीं प्राप्त होना चाहिए.

IMEI Number Calculation with Each Digits

Step: #3 10 से भाजक बनाए

अब हमारा अंतिम कार्य है प्राप्त योग को 10 से भाजक बनाना. 53 की संख्या में 10 का पूरा भाग नही जाता है. तो अब 53 में वो छोटा से छोटा अंक जोडें जिससे 53 में 10 का पूरा भाग चला जाए. इस स्थिति में हम 53 में 7 जोड़ेंगे जो कुल योग को 60 बना देगा और 60 में 10 का पूरा भाग जाता है.

इसका मतलब है हमारी गणना बिल्कुल सही है और हमारा Check Digit 7 होगा.

आप देख सकते है कि हमने जो मॉडल IMEI Number लिया है उसका अंतिम अंक 7 ही है.

इस तरह आप अपने मोबाईल फोन के IMEI Number में मौजूद Check Digit की गणना कर सकते है. और अपने दोस्तों, परिवारजनों को चौंका सकते है. और उनके मूँह से  “How Did you do that” कहलवा सकते है.


IMEI Number के फायदें – Advantages of IMEI Number

  • मोबाईल फोन को सार्वभौमिक विशिष्ट पहचान उपलब्ध कराता है.
  • फोन के बारे में आवश्यक जानकारी इन नंबरों के जरिए कूट की जा सकती है. जिसे ग्राहक भी नहीं जान सकता. यह एक खास सुरक्षा इंतजाम है.
  • सेलुलर डिवाईस में मौजूद IMEI Number की Online Tracking मुमकिन है.
  • यदि मोबाईल फोन चोरी हो जाए या फिर गिर जाए तो IMEI Number Track करके लोकेशन पता की जा सकती है.
  • किसी अपराध में शामिल व्यक्ति की जानकारी भी जुटाई जा सकती है और उसे पकड़ा भी जा सकता है.

How to Check My Mobile IMEI Number in Hindi?

आप कई तरीकों से अपने स्मार्टफोन का IMEI Number पता कर सकते है. इंटरनेट पर कई तरीके प्रचलित है और आपको बस “how to check IMEI number onlineगूगल करने की जरूरत है दर्जनों गाईड खुल जाएगी. मगर हम यहाँ आपको केवल दो तरीके बताऐंगे जिनके द्वारा आप आसानी से IMEI Number ढू‌ढ पायेंगे.

IMEI Number Check करने का सबसे आसान तरीका है स्मार्टफोन के साथ आए पैकिंग डब्बे के ऊपर देखना. जिस डब्बे में मोबाईल फोन रखा होता है उस डब्बे के ऊपर फोन की अन्य जानकारी के साथ IMEI Number भी लिखे रहते है तो आप यहां से आसानी से इन्हे देख सकते है.

अगर आपके डिवाईस की बैटरी रिमूवेबल है तब आप इसे हटाकर इसके नीचे IMEI Number देख सकते है. अधिकतर सेलुलर डिवाइसों में यहीं पर इन्हे एम्बेड किया जाता है.

यदि आपके स्मार्टफोन का डब्बा नहीं है और आपकी बैटरी भी रिमूवेबल नहीं है तब आप इन दो तरीकों से भी IMEI Number जान सकते है.

  1. नंबर डायल करके
  2. Device Status Check करके

Method: #1 *#06# नंबर द्वारा IMEI Number Check करना

  • अपने फोन के डायलपैड पर जाए और *#06# डायल करें
  • नंबर डायल करने के बाद कॉल करें
  • कॉल करते ही आपके सामने IMEI Number प्रकट हो जाएगा. यदि आपका फोन ड्युल सिम सपोर्ट करता है तो दो IMEI Number होंगे.

यह IMEI Number Check करने का एक युनिवर्सल तरीका है जिसके द्वारा किसी भी सेलुलर डिवाईस के IMEI Number के बारे में पता लगाया जा सकता है. यह डायल कोड एंड्रॉइड डिवाईस, आईफोन्स तथा अन्य ब्रांड्स पर भी समान रूप से काम करता है.

Method: #2 Device Status Check करें

  • सबसे पहले अपने फोन की Settings पर टैप करें
  • इसके बाद About Phone पर जाए
  • अब Status à IMEI Information वाले भाग पर जाकर चैक करें
  • IMEI Information वाले भाग में आपके एंड्रॉइड स्मार्टफोन का IMEI चैक कर सकते है.

IMEI Number से जुडे हुए कुछ सामान्य सवाल-जवाब – General FAQs

सवाल: IMEI Number क्या होता है?

जवाब: यह मोबाईल फोन का 15 अंको का एक सार्वभौमिक पहचान कोड होता है जिसके द्वारा डिवाईस का मॉडल, निर्माण स्थल और निर्माता की जानकारी कूट की जाती है. इसे आप बैटरी के नीचे देख सकते है. और पैकेजिंग डब्बे पर भी मिल जाता है.

सवाल: IMEI की फुल फॉर्म क्या होती है?

जवाब: IMEI की फुल फॉर्म International Mobile Equipment Identity होती है.

सवाल: क्या IMEI Number Track हो सकता है?

जवाब: जी हाँ. इस नंबर को बनाया ही इसलिए जाता है ताकि डिवाईस को आसानी से पहचाना जा सके. इस नंबर के जरिए इसकी ऑनलाईन ट्रैकिंग की जा सकती है. फोन चोरी होने पर सिम निर्माता इसी नंबर के आधार पर फोन की ट्रैकिंग करते है. और पुलिस भी इसी नंबर के आधार पर फोन को ढूँढ़ने का काम करती है.

सवाल: एक फोन में कितने IMEI Number होते है?

जवाब: यह आपके फोन पर निर्भर करता है. यदि आपका फोन ड्युल सिम फिचर सपोर्ट करता है तो आपके फोन के दो IMEI Number होंगे.

सवाल: क्या हर सेलुलर डिवाईस का IMEI Number होता है?

जवाब: जरूरी नहीं है. मगर भारत सरकार ने सन 2009 के बाद से सभी गैर IMEI Number वाले डिवाइसों पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसलिए आप हमेशा IMEI Number वाला ही मोबाईल फोन खरीदें. यह आपके और डिवाईस के लिए सुरक्षा मुहैया कराता है.


आपने क्या सीखा?

इस लेख में हमने आपको IMEI Number के बारे में पूरी जानकारी दी है. आपने जाना कि IMEI Number क्या होता है? यह कैसे बनता है? IMEI Number के फायदे और इसे चैक करने के विभिन्न तरीकों के बारे में जाना है. हमे उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा.

#BeDigital

Leave a Comment